आकर्षण बढ़ाते हैं स्वस्थ सुंदर बाल

हमारा चेहरा चाहे कितना सुंदर क्यों न हो पर यदि हमारे बाल ठीक से संवरे न हों या बेजान, रूखे, हल्के हों तो हमारा चेहरा सुंदर नहीं लग सकता क्योंकि सुंदरता को आकर्षक बनाने में बालों का प्रमुख स्थान है। स्वस्थ बाल आत्मविश्वास बढ़ाते हैं, व्यक्तित्व को आकर्षक बनाते हैं। काले, घने, सुंदर, चमकदार बाल नारी के सौंदर्य व रूप लावण्य को और भी मोहक बनाते हैं।
शायद ही कोई ऐसी महिला होगी जो काले, घने, लम्बे बालों की इच्छा न रखती हो परन्तु हम बालों को प्राकृतिक देन समझ उन से उपेक्षा भाव अपनाते हैं। बालों को भी देखभाल की आवश्यकता होती है। इसके लिये नियंत्रित दिनचर्या, संतुलित भोजन, विश्राम, व्यायाम, तथा मानसिक स्थिति इत्यादि पर ध्यान देना होगा।
हमें यह पता होना चाहिये कि हमारे बालों की प्रकृति क्या है और उनकी देखभाल कैसे करें। बाल मुख्यत: तीन प्रकार के होते हैं।
रूखे बाल:- सिर में पायी जाने वाली तैल ग्रन्थियों के कम स्राव से बाल रूखे हो जाते हैं। इसके अतिरिक्त बालों को पर्याप्त मात्रा में तेल न मिलने या ज्यादा धूप में रहने, हेयर डाई, हेयर स्प्रे, हेयर ड्रायर प्रयोग करने से बाल रूखे हो जाते हैं। रूखे बाल उड़े-उड़े से हल्के लगते हैं। पौष्टिकता न मिलने के कारण बेजान, कमजोर हो जाते हैं। बालों के कोने दो मुंह होकर फट जाते हैं।
रूखे बालों को सप्ताह में दो बार धोएं और धोने के पहले नारियल या जैतून के गुनगुने तेल की उंगलियों के पोरों से सिर में मालिश करें, उसके बाद बालों को गर्म पानी के भीगे तौलिये द्वारा भाप दें। ठंडा होने पर तौलिया दोबारा भिगोकर सिर पर रखें। इस प्रकार पंद्रह मिनट तक करें।
तैलीय बाल:- ये बाल चिकने एवं चमकदार होते हैं। तैलीय बालों में अधिक चिकनाई के कारण अधिक धूल जमती है। इस तरह के बाल हमेशा गुनगुने पानी से धोने चाहिये। बालों में मुल्तानी मिट्टी लगाकर, गुनगुने पानी से धोयें। ऐसा करने से अतिरिक्त तेल तो निकलेगा ही, सिर को ठंडक भी मिलेगी। तैलीय बालों को हर दूसरे दिन धोने की आवश्यकता होती है।
सामान्य बाल:- इस तरह के बाल अच्छी चमक व कांति वाले होते हैं। ये छोर पर दोमुंहे नहीं होते हैं। उन्हें छूने से मुलायम तथा रेशमी एहसास होता है। यदि आपके बालों में ऐसे गुण हैं तो आप वाकई भाग्यशाली हैं क्योंकि इस तरह के बाल स्वस्थ व अच्छे माने जाते हैं। सामान्य बालों को चार-पाँच दिनों के अन्तर में धोना चाहिये। सामान्य बालों में नारियल के तेल में थोड़ा सा जैतून का तेल व थोड़ा सा नींबू का रस गुनगुना करके उंगलियों के पोरों से पंद्रह मिनट मालिश करें।
बाल सामान्य हों, तैलीय हों या रूखे हों, बालों को धोने का सर्वोत्तम तरीका है कि बालों को आंवला, रीठा व शिकाकाई से धोये। रात में अपने बालों की लम्बाई के अनुसार बराबर-बराबर मात्रा में तीनों चीजें भिगों दें। सुबह उसे महीन पीस लें। बालों में बीस-पच्चीस मिनट लगाने के बाद धो दें। इससे बाल स्वस्थ एवं चमकदार रहेंगे और बढ़ेंगे भी। आवश्यकता पडऩे पर शैम्पू का प्रयोग करें।
बालों के लिये खान-पान पर भी थोड़ा ध्यान देना चाहिये। विटामिन ‘एÓ और ‘बीÓ युक्त आहार लें। साबुत अंकुरित, अनाज, पालक, गाजर, सोयाबीन, दूध, दही, दाल, अंडा, आंवला, हरी सब्जियाँ आदि का सेवन करना चाहिये।
शरीर व बालों को स्वस्थ रखने के लिये व्यायाम अति आवश्यक है। प्रतिदिन कम से कम दस मिनट यौगिक व्यायाम अवश्य करें। बालों के लिये सर्वांगासन प्रतिदिन 3-4 मिनट करना चाहिये। इससे बाल बढ़ते हैं। सप्ताह में एक बार बालों को भाप अवश्य दें।
महीने में एक बार मेंहदी, अंडा, कुछ बूंदें नींबू का रस डालकर एक घंटा लगायें। यह कंडीशनिंग का भी कार्य करेगा। बालों की एक-डेढ़ महीने में ट्रिमिंग करवाते रहें जिससे बाल बड़े और देखने में भी खराब न लगें।
बालों की सुरक्षा के लिये कुछ बातों का ध्यान रखना अति आवश्यक है। दूषित वातावरण, तेज धूप व ज्यादा नमी बालों की शक्ति एवं सुन्दरता को कम कर देते हैं। बालों को धोने के लिये विभिन्न प्रकार के साबुन और शैम्पू का उपयोग नहीं करना चाहिये। सिर के बालों को सामान्य पानी से धोना चाहिये। बाल धोने के बाद उन्हें पोंछने में तेजी न करें। उन्हें धीरे-धीरे पोंछें। गीले बालों में कंघी न करें। इससे बाल दो मुंह होकर फट जाते हैं।
बालों को ज्यादा खींचकर न बांधें। बालों को आवश्यकता से अधिक धोयें नहीं क्योंकि ऐसा करने से बालों की प्राकृतिक चमक खत्म हो जाती है। बालों को ड्रायर की सहायता से न सुखाकर उन्हें प्राकृतिक रूप से सूखने दें। रात में देर तक जागने से शारीरिक व मानसिक थकान होती है जो बाल उगाने वाली ग्रंथि को प्रभावित करती है जिससे बाल कमजोर हो जाते हैं। अत: पूरी नींद समय से लेनी चाहिये।
आप भी नियमित दिनचर्या व संतुलित आहार का सेवन कर, अपने को स्वस्थ रखकर, सुन्दर घने, लम्बे बालों की मल्लिका बन सकती हैं। ——————— (उर्वशी)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *