आप भी बन सकती हैं सर्वश्रेष्ठ कुक

ह्म् मक्के के आटे को नर्म गूंथने के लिए चावल के गरम मांड  का प्रयोग करें और थोड़ा सा गेहूं का आटा भी मिलायें। रोटी आसानी से और नर्म बनेगी।
** गाजर, मटर, काशीफल व शलजम की सब्जी बनाते समय छोटा चम्मच चीनी का डाल दें। सब्जी का रंग प्राकृतिक रहेगा।
** देसी घी में कुछ तलते समय गैस की आंच को मध्यम रखें। तेज आंच पर तलने से घी जल जाता है और तासीर विषाक्त हो सकती है।
** छोटे कुकर में दाल, सब्जी पकाते समय गैस के छोटे बर्नर का प्रयोग करें। इससे गैस की बचत होगी।
** उपमा बनाते समय उसमें अचार का मसाला डालें। उपमा का स्वाद बढ़ जाएगा।
** लौंग, अजवायन, जीरा, सरसों, मेथीदाने का प्रयोग सब्जी-दाल बनाते समय अवश्य प्रयोग में लायें। यै मसाले कई रोगों से दूर रखते हैं।
** आलू के चिप्स कुरकुरे बनाने हेतु तलने से पहले उन पर थोड़ा सा बेसन बुरक दें।
** फूलगोभी पकाते समय अदरक का प्रयोग करें। फूलगोभी की गंध कम करने के लिए गोभी को खुली कड़ाही में पकाएं, ढकें नहीं। गोभी पकाते समय थोड़ी सी बूंदें नींबू की डाल दें। गोभी खिली-खिली बनेगी।
** फ्रिज से तुरन्त निकाले हुए अंडों को न उबालें, अंडे टूट जाएंगे। उन्हें दस मिनट सादे पानी में डुबाकर रखें।
** पकौड़े बनाने से पहले बेसन में दही फेंट कर डालें। पकौड़े खस्ता व स्वादिष्ट बनेंगे।
** कुरकुरे पकौड़ों हेतु बेसन में चिड़वा भिगो कर डालें। पकौड़े कुरकुरे बनेंगे।
** कटी सब्जी और कटे फल फ्रिज में रखने से पहले उन्हें क्लिंग फिल्म में लपेट लें। इससे कटे फल और सब्जी खराब नहीं होंगे, न ही उनकी खुशबू दूसरों में जाएगी।
** प्याज आंखों में न लगे, इसके लिए प्याज ठंडे पानी से धोकर काटें।
** मटन साफ करते समय ज्यादा देर तक मटन पानी में न रखें वरना मटन सख्त हो जाएगा और पकाने में ज्यादा समय लगेगा।
** चीज कसते समय कद्दूकस पर थोड़ा सा तेल लगा लें। इससे चीज चिपकेगा नहीं।
** छोले, दाल, सब्जी, पकौड़े पकाते समय खाने के सोडे का प्रयोग न करें। इससे उनके विटामिन नष्ट हो जायेंगे।
** सर्दियों में दालों को अंकुरित करने के लिए रात भर की भीगी दाल का पानी निकाल कर कैसरोल में ढक्कन बंद कर रख दें। अगले दिन दालें अंकुरित हो जाएंगी।
** पालक के परांठे बनाने हेतु पालक उबाल कर पीस लें और आटा में मिला कर गूंधें।
** भरवां मूली, गोभी के परांठे के लिए सब्जी को कद्दूकस कर लें, फिर अच्छी तरह से निचोड़ कर नमक मिर्च मिलाकर सब्जी भरें। परांठे टूटेंगे नहीं और चिपकेंगे भी नहीं।
** बैंगन की कतलियां तलने से पूर्व उन पर थोड़ा सा नमक और बेसन बुरकें। कतलियां कुरकुरी बनेंगी।
** बड़े मिठाई के टुकड़ों को चाकू से काट कर छोटे टुकड़ों में सर्व करें।
** बची हुई लौकी और तोरी की सब्जी को चने की दाल या अरहर की दाल में मिला कर पकाएं। दाल अधिक स्वादिष्ट और पौष्टिक बनेंगी।
** हरी मिर्च को चॉपिंग बोर्ड पर या रसोई की साफ स्लैब पर रख कर चाकू से काटें या कैंची से काटें। हाथों में जलन नहीं होगी।
** साग और हरे पत्ते की सब्जियों को लोहे की कढ़ाई में बिना पानी डाले धीमी आंच पर पकाएं। सारे खनिज और लौह तत्व सुरक्षित रहेंगे।———————  (उर्वशी)




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *