कैसे बचें थकान से

क्या आप पिछले कुछ दिनों से अपने आप को चुस्त महसूस नहीं कर रही? आप हमेशा चिंतित, परेशान, चिड़चिड़ी, उदासीन रहती हैं। घर के कामों को निपटाने की इच्छा नहीं होती। रोजमर्रा के काम पूरा करने में टाल मटोल कर रही हैं। अधिक बात करना, परिजनों में उठना बैठना, बात बात पर क्रोध आना महसूस कर रही हैं।
इसका अर्थ है आपका शरीर अत्यधिक थकान का शिकार हो रहा है। थकान मानसिक हो या शारीरिक, इसे नजरअंदाज मत करें। अपने डॉक्टर से सम्पर्क करें और उसके अनुसार चलें। जब शरीर काम करते करते थकान महसूस करे, ऐसे में कुछ बातों का ध्यान रखें:-
जिस काम को करने से शारीरिक या मानसिक थकान महसूस हो, उस काम को थोड़े समय के लिए छोड़ दें। यदि आवश्यक न हो तो ऐसे कामों से बचें।
रात को सोने से पहले अगले दिन क्या महत्त्वपूर्ण काम हैं, इनका क्रम तय कर लें। सभी काम यदि समाप्त न हो सकें तो घबराएं नहीं। अगले दिन पूरा करने का प्रयास करें।
अधिक मेहनत के कामों को बांट कर करें या बीच में कुछ आराम अवश्य लें।
काम करते समय अपनी पसंद का संगीत धीमी आवाज में सुनें।
कभी कभी पुराने मित्रों और रिश्तेदारों से मिलते रहें या फोन पर सम्पर्क करते रहें। ऐसा करने से अपने मूड में ताजगी महसूस करेंगी।
दिन में थोड़ा आराम अवश्य लें। रात्रि में भी 6-7 घंटे की भरपूर नींद लें।
अपने खाने पीने में पौष्टिक खाद्य पदार्थों को प्राथमिकता दें।
खाली समय में अपने शौकों को पूरा करें जैसे मैग्जीन, अखबार पढ़ना, डायरी लिखना, सिलाई बुनाई करना आदि।
अपने जीवन साथी के साथ घूमने का कार्यक्रम बीच बीच में बनाती रहें। कभी कभी घर से बाहर खाना खाने जायें या घर पर बाहरी खाना मंगवाकर स्वयं को आराम दें।
सुबह समय निकाल कर सैर पर अवश्य जाएं। हो सके तो हल्के फुल्के व्यायाम करें।
सकारात्मक सोच बनाएं। जीवन से नकारात्मक सोच को दूर रखने में ही भलाई है।
अनावश्यक तनाव न पालें। हंसती हंसाती रहें।
अधिक थकान होने पर ब्यूटी-पार्लर जायें और अपने सिर और शरीर की मालिश करवायें।
घर पर पैरों का पेडिक्योर करें जिससे टांगों में कम थकान महसूस होगी। (उर्वशी)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *