कैसे रखें घर में झाड़ू

आज के आधुनिक युग में हम झाड़ू को केवल कचरा साफ करने का साधन मानते हैं किंतु झाड़ूू समृद्धि का प्रतीक भी माना जाता है। घर में अकारण तनाव, झगड़े व दरिद्रता है तो कहीं न कहीं इसका कारण झाड़ू भी हो सकती है। इसके निम्न कारण हैं।

-रसोईघर एवं शयन कक्ष में झाडू रखना क्लेश, तनाव एवं मतभेद उत्पन्न करता है।

– ऐसी झाड़ू कभी न निकालें जिसकी आवाज आए और उससे धूल उड़े। यह कृत्य घर में दरिद्रता लाता है।

-झाड़ू को बिस्तर पर थोड़ी सी देर के लिए भी न रखें। इससे पति पत्नी के बीच विवाद होने लगते हैं।

– झाड़ू या पोंछे का कपड़ा गंदा व गीला रखने से घर की बरकत समाप्त होती है।

-शुभ झाड़ू वह है जिसके तंतु (काडी) धीरे-धीरे घिसते हैं।

– दीपावली व होली पर नई झाड़ू अवश्य लाएं।

– घर के मंदिर की झाड़ू एवं पांेछे को कहीं अन्य प्रयोग न करें।

-संध्याकाल के समय झाड़ू लगाना अशुभ होता है।

-घर का झाड़ू बुहारा अंदर की ओर से बाहर की ओर लगाना शुभ होता है।

– दरवाजे के मध्य एवं आगे पीछे और देहली पर झाड़ू नहीं रखना चाहिए। (उर्वशी)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *