पर्यटन के क्षेत्र में रोजगार की संभावनाएं

पर्यटकों को चाहिए पर्यटन के दौरान तमाम सुविधाएं। टैªवल एण्ड टूरिज्म का डिप्लोमा कोर्स कर आप पर्यटन के क्षेत्रा में अपना शानदार करियर बना सकते हैं। यूं तो कई टैªवल एजेंसियां देश के लगभग सभी महानगरों में अपनी सेवाएं प्रदान कर रही हैं।
इन में से कुछ ऐसी हैं जिन्हें पर्यटन का समुचित ज्ञान है और वे वर्षों से बसें, टैक्सियां चला रही हैं किंतु कई बोगस संस्थाएं भी हैं जो पर्यटकों को बेवकूफ बना कर लूटने का कोई मौका नहीं गंवाती। उनके लुभावने विज्ञापनों में फंस कर पर्यटक पर्यटन का मजा किरकिरा कर लेते हैं। पैकेज को विगत वर्षों में जबरदस्त लोकप्रियता भी मिली है। आप अपने सीमित संस्थानों से, सीमित संसाधनों से टूरिस्ट एजेंसी चला सकते हैं। बस कुछ बातें ध्यान में रखनी होगी।
** अपने शहर के चर्चित इलाके में छोटा सा ही किंतु सुंदर दफ्तर खोल लें। दफ्तर में टूरिज़्म से जुड़े पोस्टर्स लगाएं।
** कम्प्यूटर, टेलीफोन, सेलफोन एवं जीरोक्स मशीन अवश्य खरीद लें।
** सफल अरेंजर अथवा आर्गनाइजर वही होता है जो सीमित साधनों में भी पर्यटकों को बेहतरीन सेवाएं प्रदान करता है।
** पर्यटन क्षेत्रों की जानकारी संकलित कर लें अन्यथा आप पर्यटकों को बेहतरीन सेवाएं शायद ही प्रदान कर पायेंगे।
** केटरर्स से लिंक बनाए रखें ताकि समय पड़ने पर पर्यटकों को अधिक से अधिक सेवाएं बगैर दिक्कतों के प्रदान करना संभव हो सके।
** लंबी दूरी की यात्राओं में आप बतौर अरेंजर बस के साथ जाकर सुचारू व्यवस्था कर सकते हैं।
** पर्यटन से संबंधित मैनेजमेंट कोर्स कर आप पर्यटन के क्षेत्रा में शानदार करियर बना सकते हैं।
** बीच-बीच में रिफ्रेशर कोर्स कर आप अपने ज्ञान व अनुभव में वृद्धि कर सकते हैं।
उनगर दर्शन के रूप में भी एक अलग ही किस्म के रोमांचक पर्यटन के विकास में आप एक महत्त्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं। पर्यटन विकास प्राधिकरण एवं पर्यटन मंत्रालय से संपर्क कर आप स्वयं भी लाभान्वित हो सकते हैं और पर्यटन के विकास में सहभागी भी बन सकते हैं।
उपर्यटन संबंधित पत्रा-पत्रिका प्रकाशित कर आप कई लोगों को रोजगार प्रदान कर सकते हैं।
** आपके लिए जरूरी है कि आप अपने जनसंपर्क के दायरे को विकसित कर निजी ट्रैवल एजेंसियों, ट्रांसपोर्टरों, होटलों एवं रिसोर्ट्स से मधुर संबंध बनाएं।
——– (उर्वशी)
——- राजेन्द्र मिश्र ‘राज’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *