बढ़ायें अपने नेत्रों का सौन्दर्य

नेत्र मानव शरीर का सुन्दरतम् अंग हैं। सुन्दर नेत्र हर किसी का ध्यान अपनी ओर आकर्षित करते हैं। नेत्रों को सुन्दर व चमकदार बनाये रखने के लिए नेत्रों की देखभाल अत्यन्त जरूरी है। नेत्र सौन्दर्य कैसे बढ़ायें? इससे सम्बन्धित कुछ सुझाव इस प्रकार
हैं।
द्व हमेशा पर्याप्त नींद लेने की कोशिश करनी चाहिए क्योंकि यह बहुत जरूरी है। नींद पूरी न लेने का असर नेत्रों पर साफ दिखाई देता है। नेत्रों के नीचे कालापन छा जाता है। रात में आठ घण्टे की नींद लेना आदर्श माना गया है।
** नेत्रों को आभा प्रदान करने के विटामिन विशेष रूप से मददगार साबित होते हैं। इन सबमें सबसे ज्यादा महत्त्वपूर्ण है विटामिन ‘ए’। यह हरी सब्जियों, मछली, गाजर, पपीते तथा मक्खन में पाया जाता है। विटामिन बी-2 अंकुरित अनाज-दूध तथा अंडे में पाया जाता है। इन सभी के सेवन से नेत्रों की रोशनी बढ़ती है।
** मद्यपान नहीं करना चाहिए, इससे आंखों की रक्त-वाहिनियां फैल जाती हैं जिससे आंखों में लाल डोरे नजर आने लगते हैं। इसलिए हमें अपने पेय पदार्थों में फलों के रस का ज्यादा से ज्यादा सेवन करना चाहिए। गाजर, पालक तथा चुकन्दर, तीनों का मिश्रण तथा इसका सेवन बहुत फायदेमन्द रहता है। इससे आंखें सफेद तथा चमकदार नजर आती हैं।
** दूषित वातावरण जैसे किसी भीड़ भरे स्थान, धुएं तथा धूल से भरे स्थान से आने के बाद पानी में बोरेक्स पाउडर डालकर उससे नेत्रों को धोना चाहिए। नेत्रों से सारी धूल, मिट्टी निकल जाती है। गुलाबजल में भिगोया रूई का फाहा नेत्रों पर रखकर करीब दस मिनट तक नेत्रों को बन्द करके चित्त लेटे रहें। इससे नेत्रों को तुरन्त आराम मिलता है और वे तरोताज़ा हो उठते हैं। इसी प्रकार खीरे को गोल-गोल काटकर नेत्रों पर रखने से भी नेत्रों को ठंडापन लगता है।
इन सभी सुझावों को हमेशा ध्यान में रखने तथा इनके प्रयोग से हम अपने नेत्रों को सुन्दर व स्वस्थ बना सकते हैं। नेत्र मानव शरीर का सबसे कोमल अंग होता है अत: नेत्रों के प्रति किसी भी प्रकार की लापरवाही नहीं बरतनी चाहिए। ————– (उर्वशी) 




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *