बनायें पति को अपना दीवाना

जब कोई भी लड़की विवाह के विषय में विचार करती है तो सबसे पहले वह कल्पना करती है कि एक सुखद दांपत्य जीवन व्यतीत करे। उसका दांपत्य जीवन सुखी व मधुर बना रहे, उसका पति हमेशा उसे बहुत प्यार करता रहे। उसका पति सिर्फ उसका ही रहे, ऐसी प्रत्येक पत्नी की इच्छा होती है। आपका पति सिर्फ आपके ही ख्यालों में खोया रह सकता है। बस आपको इसके लिए कुछ सावधानियां रखनी पडें़गी।
पहली मुलाकात को एक यादगार मुलाकात बनाने का प्रयास करें। पति के सामने एक दम शर्म ओढ़ कर न रखें और न ही अधिक खुलकर पेश आयें। यदि आप खुले विचारों की भी हैं, तब भी आप पहली मुलाकात में एक दम न खुलें। लाज-शर्म स्त्री का गहना है। प्रथम बातचीत में पति की आदतों, उनकी पसंद, परिवार के सदस्यों की जानकारी प्राप्त करें।
विवाह के बाद लड़की एकदम नये परिवार, नये परिवेश, नये वातावरण में पहुंचती है जहां उसे सास-ससुर, मां-बाप के रूप में मिलते हैं। ऐसे में पति ही आपका जीवन साथी है जो जीवन के अंत तक आपके सुख-दुख का साथी रहता है, अतः ससुराल में परिवार के अन्य सदस्यों के साथ-साथ आपका केंद्र बिन्दु आपका पति होना चाहिए। आपका पूरा जीवन अपने पति के साथ है। इस जीवन को सुखमय या दुखमय बनाना आप दोनों के हाथ में है जिसका अधिक उत्तरदायित्व आप पर ही आता है क्योंकि आज भी आमतौर पर पति झुकने को कम तैयार होते हैं।
पत्नी यदि पति पर हावी रहती है तो यह उसके द्वारा दिये गये प्यार की डोर की जकड़ का प्रभाव होता है, अतः आरम्भ से ही प्यार की पकड़ को मजबूत बनाए रखिए। अपनी कोई कमजोरी अपने पति को न बताएं। यदि आपका कोई पुरूष मित्रा विवाह पूर्व रहा है तो भूलकर भी उसके विषय में अपने पति को कभी न बताएं। यह घातक भी हो सकता है।
आमतौर पर विवाह के बाद कुछ दिनों तक तो नववधू अपने प्रियतम को बड़े प्यार से खाना, चाय आदि देती है। ड्यूटी पर जाते समय प्रेमपूर्वक विदाई व ड्यूटी से आने पर सजी-संवरी दुल्हन मीठी मुस्कान से अपने प्रियतम का स्वागत करती है किन्तु जैसे-जैसे समय बीतता जाता है ये सभी कार्यक्रम बन्द हो जाते हैं।
चाहे आपके विवाह को कितने ही दिन बीत जाएं एक बात हमेशा ध्यान रखें कि अपने प्रियतम के सामने सज-संवरकर ही जायें। आपको आपके पति कभी बदसूरती के आलम में न देखें, ऐसा आपका सदैव प्रयास रहना चाहिए।
अतः जैसे ही आपके पति का ड्यूटी से आने का समय हो तो साफ कपड़े पहनकर, अपने आपको सजा-संवार कर प्यार भरी मुस्कराहट के साथ अपने पति के समक्ष पेश करें जिससे आपके उनकी दिन भर की थकान तो उतर ही जायेगी, उनका आपको प्यार करने के लिए दिल भी उमड़ पड़ेगा।
सुखी दांपत्य का यही एक ठोस आधार है। (उर्वशी)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *