व्यक्तित्व को निखारता है पर्स

nsaआज पर्स या हैंडबैग फैशन नहीं, आवश्यकता बन गया है। चाहे वह कामकाजी महिला हो या गृहिणी, पर्स सभी महिलाओं की जरूरत है। समय के साथ-साथ इनके आकार में कई परिवर्तन आए। पहले थोड़े बड़े व लंबी तनी के पर्स इस्तेमाल किए जाते थे किंतु अब छोटी तनी के पर्सों का चलन अधिक है।
व्यक्तित्व को निखारने में पर्स की अहम भूमिका होती है इसलिए पर्स का चुनाव करते समय यह ध्यान रखें कि वह आपकी पर्सनेलिटी से तो मेल खाएं ही, साथ ही अवसर के अनुकूल भी हों। यह नहीं कि आप पर्स खरीद रही हैं पार्टी के लिए और खरीद लेती हैं सफर में प्रयोग आने वाला पर्स।
हाईट के अनुसार:- यदि आपका कद लंबा है तो लम्बा हैंडबैग खरीदें। यदि कद छोटा है तो छोटा व छोटी तनी का ही पर्स खरीदें। जो महिलाएं मोटी हैं, उन्हें भी छोटे आकार के पर्स या हैंडबैंग का प्रयोग करना चाहिए। पतली महिलाएं किसी भी आकार का पर्स प्रयोग में ला सकती हैं।
अवसर:- यदि आप कहीं सफर में जा रही हैं तो 4-5 पॉकेट वाला पर्स खरीदें ताकि आवश्यकता का सामान अलग-अलग पॉकेटों में रखा जा सके। कॉलेज की लड़कियों के लिए बड़े आकार का पर्स बेहतर रहता हैं। इससे उन्हें अपनी किताबों व नोटबुक्स को ले जाने में आसानी रहेगी। मार्केटिंग एक्जीक्यूटिव्स के लिए कंधे पर लटकने वाला पर्स अच्छा रहता है। ऑफिस जाने वाली महिलाओं को मीडियम आकार का पर्स खरीदना चाहिए ताकि उसमें उनका कंघा, लिपस्टिक व पाउडर आदि आसानी से आ सके। लंच बाक्स पर्स में न रखें, अन्यथा सब्जी के निकलने से पर्स खराब हो जाएगा। किसी पार्टी मेें जा रही हैं तो अच्छी क्वालिटी का पर्स लें ऐसे पर्स आप सिर्फ पार्टी के लिए प्रयोग में ला सकती हैं।
रंग:- पर्स खरीदते समय इसके रंग पर विशेष ध्यान दें। काला, भूरा, ग्रे रंग का पर्स हर ड्रेस के साथ सूट करता है। यदि आपने काम्बिनेशन साड़ी पहनी है तो ब्लाउज के कलर से मिलता हुआ पर्स लें। इससे आपके सौंदर्य व व्यक्तित्व में चार चांद लग जायेंगे। सैंडिल से मैच करता पर्स भी आपके सौंदर्य को बढ़ाता है। कामकाजी महिलाओं को भड़कीले रंग के पर्स नहीं खरीदने चाहिएं।
क्वालिटी:- पर्स हमेशा लेदर के ही खरीदें क्योंकि ये देखने में भी सुंदर होते हैं तथा टिकाऊ भी होते हैं। इसके विपरीत रेक्सीन के पर्स देखने में जितने आकर्षक लगते हैं, क्वालिटी में उतने ही खराब होते हैं। इसलिए पर्स का चुनाव बहुत सावधानी से करें। केवल रंग को ही देखकर पर्स न खरीद लें अपितु उसकी चेन, लाइनिंग, टांगने की बेल्ट व सिलाई की क्वालिटी को भी चैक करें। कई बार चेन व बेल्ट बहुत ही हल्की किस्म की होती है, इसलिए पर्स खरीदते वक्त इन बातों का खास ख्याल रखें।  (उर्वशी)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *