हर्षोल्लास से करें त्योहारों का स्वागत

आपका घर आपके व्यक्तित्व का आईना है। यदि आपने उसे साफ.स्वच्छ नहीें किया है तो कोई भी कह सकता है कि आपका त्योहार मनाने का मूड नहीं हैै। यदि आपने घर को त्योहार से पूर्व चमका रखा है तो इसका मतलब है कि आप त्योहार मनाने के लिए कितनी आतुर हैं। आप सब कुछ अच्छा.अच्छा याद रखेंगे और कल का बीता हुआ सब बुरा भूल जायेंगे।
घर केवल सजावटी कीमती चीजों से ही नहीें बनता। घर बनता है घर में रहने वाले लोगों से। इतना हो कि वे इसे अपने अनुसार ढाल सकें। इसे अपने अनुरूप बनायें। इसमें वे सब चीजें रखें जो उनकी जरूरत की हों। चीजों को व्यवस्थित ढंग से रखें। शुरूआत करें घर की साफ.सफाई से। सफाई की शुरूआत घर के किसी खास कोने से करें। सभी कमरों के कोने लगभग खाली ही रखें। इससे अधिक स्वच्छता का आभास होता है। घर तभी सुन्दर बनता है जब घर की साफ.सफाई के साथ.साथ अपना मन भी साफ रखा जाये।
अपने मन की सभी बुरी भावनाओं को त्याग दें। अपने मन को सभी बुराइयों से दूर करें और भगवान की आस्था में लगाएं ताकि उसमें स्वच्छ विचार ही आयें। घर भी परिवर्तित तभी लगेगा जब आपका मन परिवर्तित हो जायेगा।
घर में नई ताजगीए ऊर्जा एवं स्फूर्ति लाने के लिए प्राचीन चीनी कला फेंग शुई काफी मशहूर है। फेंग शुई के अनुसार हमेें पता चलता है कि घर में किस तरह का फर्नीचर रखना चाहिएए कौन.सा रंग इस्तेमाल किया जाना चाहिए। कौन.सी वस्तु कहां रखी जानी चाहिए। घर में क्या चीज होनी चाहिए जिससे पूरे घर में ऊर्जा का संचार हो।
सिर्फ घर को बदल देने से ही सब कुछ उत्तम नहीं हो जाता। अपने मन को भी बदलना चाहिए। इसके लिए कुछ शारीरिक व्यायाम किए जाने चाहिएं। प्रभु की आस्था में मन लगाना चाहिए। इससे आप स्वयं ही अपने अन्दर ऊर्जा को महसूस करेंगी। तभी घर के अन्दर कुछ ऊर्जावान वस्तुएं रखने का फायदा होगा।
घर के अन्दर ऐसी सजावटी वस्तुएं या एंटीक पीस रखें जिनसे ऊर्जा मिले। पिरामिड्स परिवार की हंसती.खिलखिलाती तस्वीरेंए पवित्र वस्तुएं आदि घर में सजाने से घर में ऊर्जा का संचार होता है। हांए यदि यह सब एक धूल भरे घर में गंदगी में रखी जायेंगी तो शायद ऊर्जा का संचार नहीं होगा क्योंकि ऊर्जा को फैलने के लिए स्वच्छ रास्ता नहीं मिलेगा। इसलिए जरूरी है कि पहले पूरे घर की साफ.सफाई की जाये। फिर पूरे घर को स्वच्छ जल से धोया जाये। जल में कोई सुगंधित पदार्थ डाल लेना चाहिए जिसकी भीनी.भीनी खुशबू से पूरा घर महका रहे।
दालचीनी के पाउडर को चार.पांच घंटे तक भिगोकर रख दें। इसकी खुशबू से नकारात्मक ऊर्जा घर में प्रवेश नहीं करती। यह सकारात्मक ऊर्जा को घर में जगह देती है। इनके अलावा घर के बाहर दरवाजे पर गुंथे हुए ताजे लहसुन या आम पत्ते टांगना भी अच्छा रहता है। नींबू.हरी मिर्च टांगना भी शुभ माना जाता है। इसके होने से घर के अन्दर सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह होता है। घर के प्रत्येक कोने में समुद्री नमक की ढेली रखने से भी घर में सकारात्मक ऊर्जा आती है।
इसके अलावा कई ऐसे परिवर्तन कर लें जो पूरे घर को ऊर्जा से भर दें। सारी चादरें बदल डालें। परदे इकऋे कर दें। दरवाजे.खिड़कियां खोल दें। रूम परफ्यूम छिडक़ दें। कुछ ताजे फूल जिनमें से उत्तम खुशबू आती होए क्रि स्टल के फ्लॉवर पॉट में सजायें। तुरंत ही घर में नई आशा चमकेगी। आपके जीवन में आई उदासी और स्थिरता दूर हो जायेगी और ऊर्जा का संचार होगा। चाहें तो घर के आलतू.फालतू सामान को किसी कोने में अलग छिपा दें। प्रयोग में आने वाली जगहों पर कम भीड़भाड़ रखें। देखें कि आप त्योहारों से जंचे हैं या आपसे त्योहार की शान बढ़ी है।
:- त्रशिखा चौधरी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *