गर जा रहे हैं ऑफिस पार्टी में पर ऑफिस पार्टी का मजा कुछ अलग होता है

वैसे तो कोई भी पार्टी हो, मजेदार तो होती ही है पर ऑफिस पार्टी का मजा कुछ अलग होता है क्योंकि वहां आपके साथ घर परिवार की कोई जिम्मेदारी नहीं होती, बस मस्ती ही मस्ती पर यह मस्ती सीमा पार न करें इस बात का रखें पूरा ध्यान क्योंकि अधिक मस्ती आपकी बनी बनाई इमेज खराब भी कर सकती है।
ऑफिस की पार्टी में बॉस और स्टाफ दोनों पूरी तरह से रिलेक्स्ड होते हैं और खूब एंजाय करते हैं। खूब एंजायमेंट मजा भी खराब कर सकता है जैसे कई लोग अधिक ड्रिंक कर सबके साथ डांस करना पसंद करते हैं। उस रात तक तो ठीक पर जब अगले दिन हैंगओवर उतरता है और ऑफिस में लोग आपका मजाक उड़ाते हैं, तब शर्मिंदगी का सामना करना पड़ता है। अगर आप चाहते हैं आप शर्मिंदगी का शिकार न बनें तो ध्यान दें कुछ बातों पर:-
पार्टी पर किसी को साथ न लाएं:- यह सोचकर ऑफिस की पार्टी है, किसी की व्यक्तिगत नहीं, अपने साथ अपनी फ्रेंड, बहन-भाई को लेकर न जाएं। पार्टी में खाना-पीना चाहे ऑफिस की ओर से हो, इसका अर्थ यह नहीं कि आप अपने साथ किसी को लेकर वहां जाएं। अगर आप शादीशुदा है तो पार्टनर को लाना तो ठीक है पर औरों को नहीं क्योंकि अगर आप दोस्तों के साथ जाते हैं तो आप न तो क्लीग्स के साथ मस्ती कर पाएंगे, न ही अपने दोस्तों के साथ पूरी तरह से।
पार्टी डे्रस पर दें विशेष ध्यान:- ऑफिस पार्टी में जाते समय अपने कपड़ों पर विशेष ध्यान दें। अधिक चमकीले या शरीर प्रदर्शन करने वाले वस्त्रों को न पहनें। अगर आप ऐसा करते हैं तो सभी क्लीग्स का ध्यान आपकी ओर आकर्षित होगा और आपकी पोशाक आपके सहयोगियों के बीच गॉसिप का विषय बन जाएगी। हमेशा कपड़े वे पहनें जो सोबर लुक दें। हल्का मेकअप और हल्की जूलरी आपके व्यक्तित्व को चार चांद लगाएगी।
ज्यादा मस्त न हों:- वैसे तो पार्टी का अर्थ मस्ती होता है पर ऑफिस पार्टी का अर्थ है क्लीग्स के साथ अपने संबंध सुधारने का। ऑफिस में आपका स्वभाव कुछ अलग होता है क्योंकि सिर पर काम का बोझ होता है। पार्टी में आप रिलेक्सड हैं पर इसका अर्थ यह नहीं कि आप अपने व्यवहार में इतना ढीलापन लाएं कि लोग बाद में आपका मजाक उड़ाएं। जैसा व्यवहार आप ऑफिस में रखते हैं। उससे थोड़ा मस्त रहें।
अन्य क्लीग्स से भी मिलें:-
यह ऐसा अवसर होता है जब आप अन्य विभागों के लोगों से भी मिल सकते हैं। उनसे बातचीत करें, उन्हें समझने की कोशिश करें जिससे वे लोग भी आपको जान पाएंगे और आपकी दोस्ती का दायरा बढ़ेगा। सब के साथ अच्छा व्यवहार करें। किसी को खास विशेषता न दें।
आलोचना से दूरी रखें:- कभी कभी लोग ऑफिस पार्टी में जिनको नहीं चाहते, उनकी आलोचना अन्यों से करना प्रारंभ कर देते हैं। यह अच्छी बात नहीं जो लोग आज आपका बातों में साथ दे रहे हैं, हो सकता है अप्रत्यक्ष रूप में वे ऑफिस में आपके बारे में बातें करें। इससे लोगों का विश्वास आप से हट जाएगा। अगर किसी गु्रप में आलोचना किसी की हो भी रही हो तो अपने तर्क देने से बचें। हो सके तो किसी अन्य उद्देश्य से वहां से खिसक जाएं।
अपनी सीमा का रखें ध्यान:- अगर आप थोड़ा ड्रिंक वगैरह करते हैं तो ऑफिस पार्टी में डिं्रक सीमित करें। आपके बॉस और अन्य साथियों की नजर आप पर हो सकती है। कभी कभी अधिक पीने से आपका झगड़ा अपने सहयोगियों या बॉस के साथ हो सकता है जो आपके करियर और आपकी इमेज को प्रभावित करेगा। हमेशा सतर्क रहें अपने बॉस के साथ उतना ही बोलें जितना आवश्यक हो। उसकी ओर अधिक नजदीकियां न बढ़ाएं। बस सीमित रहना ही आपके लिए उचित है क्योंकि तीसरी आंख यानी कैमरा आप पर नजर रख रहा है। (उर्वशी)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *