शोध में खुलासा, कब्ज-गैस की छुट्टी करता है ये ‘स्पेशल’ योगा

कब्ज और एसिडिटी एक ऐसी बीमारी है जिसकी चपेट में आज हर दूसरा आदमी है। कई दवाइयां और घरेलू नुस्खे अपनाकर भी कुछ लोगों को इस बीमारी से निजात नहीं मिलती है। हाल ही में आई एक स्टीडी में कहा गया है कि योगासन करने से कब्ज और एसिडिटी की समस्या से छुटकारा पाया जा सकता है। अमेरिका के वैज्ञानिकों द्धारा किये इस शोध में कहा गया है कि योग कब्ज से छुटकारा दिलाने का सबसे अच्छा तरीका है।
कब्ज के लिए योगासन
वैज्ञानिकों का कहना है कि मलासन से कब्‍ज सहित पेट की सभी समस्‍याओं से निजात पा सकते हैं। पुरानी कब्ज की परेशानी, पेट दर्द और एसिडिटी जैसी समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए हम दवाओं का सहारा लेते हैं, जिससे कुछ समय के लिए तो आराम मिल जाता है, लेकिन कुछ समय बाद यह समस्‍याएं हमें घेर लेती है। लेकिन नियमित मलासन को करने से आप कब्‍ज की समस्‍या से छुटकारा पा सकते हैं। मलासन का अर्थ होता है मल त्याग करते समय जिस आसन में हम बैठते है उसे ही मलासन कहते हैं। इसके अलावा अनुलोम विलोग भी इस रोग के लिए अच्छा योगासन है।
कैसे करें मलासन
मलासन करने के लिए सबसे पहले अपने घुटनों को मोड़कर मल त्‍याग की अवस्‍था में बैठ जाएं।
बैठने के बाद अपने दोनों हाथों की बगल को दोनों घुटनों पर टीका दें।
अब दोनों हाथो की हथेलियों को मिलाकर नमस्कार मुद्रा बनाएं।
अब धीरे-धीरे सांस लें और छोड़ें, आपको कुछ देर इसी अवस्था में बैठना है।
अब धीरे-धीरे हांथो को खोलते हुए वापस उठ कर खड़े हो जाए।
इसे करने के फायदे
मलासन को करने से पेट एवं कमर को काफी लाभ होता है।
इसे नियमित करने से गैस और कब्ज की परेशानी से छुटकारा मिलता है।
कमर, घुटने, मेरुदंड की मांसपेशिया लचीली बनती है।
मलासन से घुटनों, जोड़ों, पीठ और पेट का दर्द कम होता है।
पेट की चर्बी दूर होती है।

स्रोत:www.onlymyhealth.com
https://play.google.com/store/apps/details?id=org.apnidilli.app

http://www.apnidilli.com/

http://adnewsportal.com/

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *