दिन शनिवार इतना अशुभ तो नहीं

सप्ताह के पूरे सात दिनों में एक दिन ऐसा आता है जिस दिन किसी अशांत, अनिष्ट के भय से अच्छे

Read more

न बनें अनचाहे मेहमान

वैसे भारतीय समाज में मेहमान को भगवान का दर्जा दिया जाता है परंतु जब वहां मेहमान वक्त-बेवक्त आ धमके तो

Read more

हमारे परिधान ही हमारी पहचान हैं

बदलते समय, बदलते परिवेश में आधुनिक पहनावे के प्रभाव से कोई भी अछूता नहीं है। सभी वस्त्रों की चकाचौंध की

Read more

ईश्वर की कृतियां

एक बार एक किसान के घर में रखे बर्तनों में कांसे की बनी थाली और अल्यूमीनियम के कटोरे में वार्तालाप

Read more

जीवन में संधिकाल की समस्याओं से जूझती नारी

इफ स्ंप्रग कम्स, कैन ऑटम बी फार बिहांइड’। कवि शैली की इस पंक्ति में जीवन का यथार्थ बयां है। नारी

Read more

आराध्य हैं तुलसी देवी

तुलसी देवी का पौधा जिस भी घर में है वहां से बीमारी दूर रहती है। हवा जिस ओर तुलसी की

Read more

सिंहेश्वर स्थान: जहां दशरथ ने पुत्रेष्टि यज्ञ किया था

देवाधिदेव महादेव बाबा सिंहेश्वर नाथ की नगरी मुंगेर से बीस मील दूर दौराम मधेपुरा नामक स्टेशन के नजदीक है। कहा

Read more

पूर्वजों का प्रियपेय-सोमरस

हर युग में सम्पन्न लोगों ने अपने लिये कोई न कोई पेय चुना है, ऐसा पेय जिस के पीने से

Read more

जहां सशरीर विराजित हैं मां विंध्यवासिनी

विंध्य पर्वत पर विराजमान आदिशक्ति माता विन्ध्यवासिनी की महिमा अपरम्पार है। इनके गुणों का बखान देवताओं ने भी किया है।

Read more

बच्चों को सिखाएं बुजुर्गों का सम्मान करना

बदलते समय के साथ बुजुर्गों का मान-सम्मान घटता जा रहा है। नयी पीढ़ी नये सोच के घोड़े पर सवार होकर

Read more